bal vikas mock test in Hindi for All tet Exams - studysupport.in

bal vikas mock test in Hindi for All tet Exams

 bal vikas mock test in Hindi for All tet Exams

 



bal vikas mock test

 

 


1 – यह कथन किस मनोवैज्ञानिक का है ?



 कथन – ” किसी भी शिक्षण विधि में मातृ भाषा का उपयोग एकदम बंद नहीं किया जा सकता । प्रत्यक्ष वस्तु ,क्रिया या हाव – भाव दिखाकर अथवा दृश्टान्तों द्वारा थोड़े बहुत शब्द अवश्य समझाये जा सकते  है ,किन्तु सभी शब्द  पद्धति के अनुसार नहीं सिखाये जा सकते , जैसे – विशेषण , भाववाचक संज्ञाएँ इत्यादि “

 (A) जीन पियाजे

 (B) डॉ श्रीधरनाथ मुखर्जी 

 (C)  हरलॉक

 (D) लॉरेन्स कोहलबर्ग

 (E) इनमे से कोई नहीं 

             उत्तर देखें   –      



 2 – शिक्षण विधि में  “ वेस्ट की विधि या नवीन पद्धति ” के निर्माता कौन थे ?



 (A) डॉ माईकेल वेस्ट 

 (B) वुडवर्थ

 (C)  हरलॉक

 (D) लॉरेन्स कोहलबर्ग

 (E) इनमे से कोई नहीं 



उत्तर देखें   –              

 

3 – यह कथन किस मनोवैज्ञानिक का है ?

 कथन – ” चिंतन को जीव शरीर के वातावरण के प्रति चैतन्य समायोजना कहा जाता है Ι इस रूप  विचार स्पष्तः मानसिक स्तर पर हो सकते है , – जैसे की – प्रत्यक्षानुभव और प्रत्यानुभव “ (A) जीन पियाजे (B) कॉलिन्स और ड्रेवर 

 (C)  हरलॉक

 (D) लॉरेन्स कोहलबर्ग

 (E) इनमे से कोई नहीं 



उत्तर देखें   –                    

 4 – यह कथन किस मनोवैज्ञानिक का है ?

 कथन – ” कार्यात्मक परिभाषा के रूप में चिंतन काल्पनिक जगत में व्यवस्था स्थापित करता है І यह व्यवस्था स्थापित करना वस्तुओ से सम्बंधित होता है तथा साथ ही साथ वस्तुओं के जगत की प्रतीकात्मकता से भी सम्बंधित होता है І वस्तुओ में सम्बन्धो की व्यवस्था तथा वस्तुओ में प्रतीककात्मक सम्बन्धो की व्यवस्था का भी चिंतन  है “ (A) आइज्रनेक एवं उनके साथी  (B) वुडवर्थ

 (C)  हरलॉक

 (D) लॉरेन्स कोहलबर्ग

 (E) इनमे से कोई नहीं 

उत्तर देखें   –          

 5 – यह कथन किस मनोवैज्ञानिक का है ?

 कथन – ” शिक्षण प्रतिमान में मूल्यांकन का प्रमुख कार्य प्रत्युत्तर प्राप्त करना ही है “

 (A) जीन पियाजे

 (B) वुडवर्थ

 (C)  हरलॉक

 (D) ग्लेसर 

 (E) इनमे से कोई नहीं 

उत्तर देखें       

 6 – यह कथन किस मनोवैज्ञानिक का है ?

 कथन – ” विज्ञान निरीक्षण से प्रारम्भ होता है और अपने तथ्यों की पुस्टि  अंत में निरीक्षण का सहारा लेता है Ι इस विधि के द्वारा सामूहिक व्यवहार तथा जटिल समस्याओं का अध्यन भी सरलता पूर्वक किया जा सकता है Ι



 (A) जीन पियाजे

 (B) वुडवर्थ

 (C)  गुडे तथा हाट के अनुसार 

 (D) थर्सटन 

 (E) इनमे से कोई नहीं 

उत्तर देखें-                    

 7 – यह कथन किस मनोवैज्ञानिक का है ?

 कथन – ” साक्षात्कार वह विधि है , जिसके द्वारा मौखिक अथवा लिखित सूचना प्राप्त की जा सकती है Ι “
 (A)  आइज्रनेक

 (B) वुडवर्थ

 (C)  हरलॉक

 (D) लॉरेन्स कोहलबर्ग

 (E) इनमे से कोई नहीं 

उत्तर देखें-            

 8 –  यह कथन किस मनोवैज्ञानिक का है ?

 कथन – ” पिछड़ा हुआ बालक वह है , जो शिक्षा सत्र के बीच में अपनी आयु स्तर की कक्षा से एक दर्जे नीचे का कार्य ना कर सके “

 (A) आइज्रनेक

 (B) लॉरेन्स कोहलबर्ग

 (C)  हरलॉक

 (D) बर्ट 

 (E) इनमे से कोई नहीं 



उत्तर देखें-                        

 9 –  यह कथन किस मनोवैज्ञानिक का है ?
 कथन –” प्रतिभाशाली बालकों का शारीरिक ढांचा और स्वास्थ्य सामान्य बालको की तुलना में अच्छा होता है ,जिससे ये प्रतिभाशाली व्यक्तित्व के दिखाई देते है “

 (A) कारमाइकेल 

 (B) वुडवर्थ

 (C)  हरलॉक

 (D) लॉरेन्स कोहलबर्ग

 (E) इनमे से कोई नहीं 

उत्तर देखें                          

 10 –  – ” संवेग व्यक्ति की उत्तेजित दशा है “

 (A) वुडवर्थ

 (B) बिने

 (C)  हरलॉक

 (D) लॉरेन्स कोहलबर्ग

 (E) इनमे से कोई नहीं 

उत्तर देखें   –                           



 11  –    ” संवेग , प्राणी की एक जटिल दशा है , जिसमे शारीरिक परिवर्तन , प्रबल भाव के कारण उतेजित दशा और एक निश्चित प्रकार का व्यवहार करने की पृवत्ति निहित रहती है “

 (A) जीन पियाजे

 (B) वुडवर्थ

 (C)  हरलॉक

 (D) ड्रेवर 

 (E) इनमे से कोई नहीं 

उत्तर देखें                       

 12  –   ” संवेग , चेतना की वह अवस्था है , जिसमे रागात्मक तत्व की प्रधानता रहती है “

 (A) जीन पियाजे

 (B) वुडवर्थ

 (C) जे.एस.रॉस 

 (D) लॉरेन्स कोहलबर्ग

 (E) इनमे से कोई नहीं 

उत्तर देखें-                                    

 13  –  ” किसी भी प्रकार के आदेश आने , भड़क उठने तथा उत्तेजित हो जाने की अवस्था संवेग कहते है “

 (A) जरसील्ड 

 (B) वुडवर्थ

 (C)  हरलॉक

 (D) लॉरेन्स कोहलबर्ग

 (E) इनमे से कोई नहीं 

उत्तर देखें-                            

14  –  यह कथन किस मनोवैज्ञानिक का है ?
 कथन –” प्रेरणा वह प्रक्रिया है ,जिसमे सीखने वाले की आंतरिक शक्तियाँ या आवश्यकतायें  उसके वातावरण में विभिन्न लक्ष्यों की और निर्देशित होती है “

 (A) ब्लेयर , जोन्स , सिम्पसन 



 (B) वुडवर्थ

 (C)  हरलॉक

 (D) लॉरेन्स कोहलबर्ग

 (E) इनमे से कोई नहीं 

उत्तर देखें                          

 15 –  यह कथन किस मनोवैज्ञानिक का है ?

 कथन – ” प्रेरणा , व्यवहार को जाग्रत करके क्रिया के विकास का पोषण करने तथा उसकी विधियों को नियमित करने की प्रक्रिया है “

 (A) पी.टी. यंग 

 (B) वुडवर्थ

 (C)  हरलॉक

 (D) लॉरेन्स कोहलबर्ग

 (E) इनमे से कोई नहीं 

उत्तर देखें – 

 

error: Content is protected !!