Paryavaran /Ecology & Environment and World Geography notes in Hindi

Paryavaran /Ecology & Environment and World Geography notes in Hindi

Paryavaran /Ecology & Environment and World Geography notes in Hindi

 

(पारिस्थितिकी एवं पर्यावरण)

प्रश्न -1 – शुभेद जातियाँ  कौन – कौन सी होती है ?

उत्तर –  शुभेद जातियाँ ➤ वे जातियाँ जिनकी संख्या घट रही है और यदि इसी प्रकार इनकी संख्या घटती रही तो ये जातियां संकटाग्रस्त जातियों में शामिल हो जाती है ⧫ जैसे कि  – नीली भेड़ ,एशियाई हाथी , गंगा नदी की डॉल्फिन आदि ⧫ अतः इस प्रकार की जातियाँ “शुभेद जातियाँ ” कहलाती है।       

      

प्रश्न – 2 – स्थानिक जातियाँ क्या होती है ?



उत्तर – स्थानिक जातियाँ  प्रायः प्राकृतिक  अथवा भौगोलिक सीमाओं से अलग क्षेत्रों  में पायी जाती है ⧫ जैसे कि – निकोबारी कबूतर , अंडमानी टील , जँगली  सुअर आदि ⧫                                                   

प्रश्न – 3  – लुप्त प्रजातियाँ कौन सी होती है , समझाइये ?

उत्तर – लुप्त  जातियाँ   ऐसी जातियाँ जो किसी स्थान , क्षेत्र , प्रदेश , देश ,महाद्वीप ,अथवा पृथ्वी  लुप्त हो गयी है ⧫ वे  जातियां  ” लुप्त जातियां ” कहलाती है⧫ जैसे की – एशियाई चीता आदि ⧫

 

प्रश्न – 4 –  वन्य जीवन अधिनियम क्या है ?        

उत्तर –  भारत में वन्य जीवन अधिनियम 1972 में लागू   हुआ था⧫ ये एक ऐसा नियम है ,जिसके तहत  संकटग्रस्त जातियों का बचाव , शिकार पर रोक , जंगली जीवो के व्यापार पर रोक आदि के प्रावधान है ⧫ इस नियम द्वारा जहां जंगल और प्राणियों के बचाओ में मदत मिलती है , वही दूसरी ओर इस अधिनियम के द्वारा जंगल में होने वाली अवैध गतिविधि को भी रोका जा सकता है।           

                                                    


प्रश्न – 5 – भारत में वनों की क्षति  के मुख्य  कारण  क्या  है  ?

उत्तर –   भारत में वनों की क्षति के विभिन्न कारण है।  जिनमे से कुछ इस प्रकार है। जैसे कि – रेल लाईन बिछाना  ,कृषि , व्यवसाय , खनन, जनसंख्या वृद्धि  होना  आदि ⧫        


प्रश्न – 6 – चीड़ या यव क्या है ?          

उत्तर – चीड़ (यव ) ➤ यह एक औषधीय पौधा है ⧫जिससे ” कैंसर ” जैसी बीमारियो की दवाई बनायीं जाती है ⧫ यह पौधा हिमाचल प्रदेश और अरुणाचल प्रदेश में पाया जाता है ⧫   


प्रश्न – 7 – भारत में ” प्रोजेक्ट टाइगर ” परियोजना की शुरुबात कब हुई ?

उत्तर – भारत में  प्रोजेक्ट टाइगर परियोजना  की शुरुवात सन 1973 में हुईं थी ⧫ इस परियोजना से बहुत लाभ हुआ है ⧫ 


प्रश्न – 8 –  भारत के प्रमुख राष्ट्रीय उधान और बाघ रिजर्व  के नाम राज्य के नाम के साथ बताइये ?

उत्तर –  – भारत के प्रमुख  राष्ट्रीय उधान के नाम और बाघ रिजर्व निम्न प्रकार है ⧫          

प्रश्न – 9 – वन्य जीव अधिनियम के तहत किन जीवों को संरक्षण प्रदान किया गया है ?

उत्तर – वन्य जीव अधिनियम 1980 और 1986 ➤  इसके तहत बहुत सारी तितलियों , पतंगों , भृंगों , और ड्रैगनफ्लाय को भी ” संरंक्षित ” किया है ⧫

 

प्रश्न -10 – ” तत्व ” शब्द का सर्वप्रथम प्रयोग किसने किया और कब किया ?

 
उत्तर –  तत्व शब्द का सर्वप्रथम प्रयोग ” रॉबर्ट बॉयल ” नामक  वैज्ञानिक ने सन – 1661 में किया था।  



 
प्रश्न -11 –  धातुओं से क्या तात्पर्य है , धातुएं क्या होती है ?

उत्तर – धातुएं निम्न प्रकार की होती है। जैसे कि – सोना , चांदी , लोहा , ताम्बा , सोडियम , पोटेशियम , आदि सभी धातुएं है ।

 
प्रश्न – 12 – अधातुएँ क्या होती है , और कौन – कौन सी धातुएं – अधातुओं – की श्रेणी में आती है ?
 
उत्तर – अधातुओं की विशेषता यह होती है , कि  अधातु विधुत की कुचालक होती है।  अधातुएँ निम्न प्रकार की होती है। जैसे कि  – हायड्रोजन , ऑक्सीजन ,आयोडीन ,कार्बन , किलोरीन , आदि सभी प्रकार की अधातुएँ है। 
 
प्रश्न -13 –  योगिक से क्या तात्पर्य है , योगिक की क्या विशेषताएं होती है ?
 

उत्तर –  दो या  दो से अधिक तत्वों से मिलकर बना तत्व योगिक कहलाता है। जैसे कि – पानी एक योगिक है। 

प्रश्न – 14 – ” मिश्रण ” क्या होता है ?
 



उत्तर – ऐसा पदार्थ जो दो या दो से अधिक तत्वों या यौगिकों  के किसी भी अनुपात से मिलकर बना हो , मिश्रण कहलाता है l जैसे की – हवा , मिटटी आदि सभी मिश्रण के उदहारण है। 

 
प्रश्न -15 –  ” विलियन ” से क्या है ?
 

उत्तर – विलयन ➤ विलियन दो या दो से अधिक पदार्थो का  “समांगी मिश्रण ” होता है । जैसे कि  – नींबू  पानी , सोड़ा आदि सभी विलयन है। 

 
प्रश्न – 16 –  विलयन को निकालने का सूत्र क्या है ?
 

उत्तर – विलियन को निकालने का सूत्र निम्नलिखित है। विलयन का सूत्रविलयन की सांद्रता = विलेय की मात्रा / विलयन की मात्रा या विलायक की मात्रा। 

प्रश्न – 17  पृथक्करण  क्या  होता  है ?
 

उत्तर –  दो अघुलनशील द्रवों (जैसे की – पानी और तेल )  मिश्रण को अलग करना  ही  “पृथक्करण ”  कहलाता है ।

 
प्रश्न – 18 –  ऊर्ध्वपातन विधि क्या होती  है ? 
 



उत्तर – उर्ध्वपातन विधि वह विधि होती है ,जिसमे  दो ऐसे मिश्रणो को अलग किया जाता है , जिनमें  एक ठोस और दूसरा तरल हो I अर्थात किसी मिश्रण में से ठोस पदार्थ और तरल पदार्थ को अलग – अलग करना  ऊर्ध्वपातन   कहलाता है। 

प्रश्न -19 –   भौतिक गुण क्या होता  है ?
 

उत्तर –    भौतिक गुण  से तात्पर्य भौतिक स्वरुप से होता है।  अर्थात  ” भौतिक गुण  ” वे गुण होते है , जिनका हम वर्णन कर सके , जैसे कि  – रंग , कठोरता , दृढ़ता , बहाव , घनत्व , आदि भौतिक गुण कहलाते है। 

 

error: Content is protected !!
Ads Blocker Image Powered by Code Help Pro

Ads Blocker Detected!!!

We have detected that you are using extensions to block ads. Please support us by disabling these ads blocker.

Powered By
CHP Adblock Detector Plugin | Codehelppro